9 अगस्त से दिल्ली के AIIMS में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का आज निधन हो गया. 66 साल के अरुण जेटली काफी वक़्त से गंभीर रूप से बीमार थे जिसके चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहाँ 24 अगस्त को 12 बज कर 07 मिनट पर उनका निधन हो गया.

AIIMS प्रेस रिलीज, फोटो सोर्स – गूगल

अरुण जेटली को पिछले 15 दिनों से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था. अस्पताल में भर्ती करते समय ही डॉक्टर्स ने उनकी हालत बेहद नाजुक बताई थी.

उनके निधन की जानकारी मिलते ही तमाम नेताओं ने ट्वीट करके अपनी संवेदनाएं जताते हुए दुःख प्रकट किया है –
  • नरेंद्र मोदी
  • अमित शाह
  • स्मृति ईरानी
  • राजनाथ सिंह

मई 2018 में उनका किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था. उसके बाद भी अरुण जेटली पिछले डेढ़ साल से किडनी की बीमारी से जूझ रहे थे. जिसके कारण हाल ही में उन्होंने मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल होने से भी इंकार कर दिया था. इस बात की जानकारी उन्होंने ट्वीट करके भी दी थी. जिसके बाद वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी इस बार निर्मला सीतारमण को सौंप दी गई.

AIIMS में भर्ती किये जाने के बाद से ही नरेंद्र मोदी, अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन सहित बीजेपी के कई नेता उनका हालचाल जानने के लिए अस्पताल पहुंचे थे और ट्वीट करके उनके ख़राब स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी थी. अस्पताल के डॉक्टर्स ने तभी उनके गंभीर स्वास्थ्य को देखते हुए उनकी हालत नाजुक बताई थी. तब से उन्हें लगातार लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रख कर हालत सामान्य करने की कोशिश की जा रही थी. पर, अफ़सोस डॉक्टर्स को सफलता नहीं मिल पाई और देश ने एक बेहतरीन नेता व पूर्व वित्तमंत्री को खो दिया.