Rishabhdev

About Rishabh dev

मालिक झाँसी मे पैदा हुए हैं। बुंदेलखंड को तरीके से देखा और जाना है। अभी सिंगल हैं (माने लड़कियों लपक लो... लौंडा लिखता जबर है, कविताएं कहानियाँ लिखा करेगा तुम्हारे लिए।) खाने मे बैगन का भर्ता बहुत पसंद है। पहाड़ों की वादियों मे छुट्टियाँ मनाने के लिए हमेशा तैयार बैठे हैं। पीने मे सॉफ्ट ड्रिंक पसंद है। स्प्रईट खूब पीते हैं।
  • इंदिरा गांधी के फैसले पर बवाल मच गया था

इंदिरा गांधी का वो फैसला जिसका विरोध खुद उनकी पार्टी कांग्रेस ने किया था

इंदिरा गांधी ने 24 जनवरी 1966  को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। कांग्रेस अध्यक्ष के.कामराज से एक

  • Rani Laxmibai

रानी लक्ष्मीबाई ने लड़ते-लड़ते जान दे दी, पर अंग्रेजों के हाथ नहीं लगीं

हम सबने अपने बचपन में सुभद्रा कुमारी चौहान की एक कविता जरूर पढ़ी होगी। 'खूब लड़ी मर्दानी

ऑपरेशन ब्लू स्टार: खालिस्तान और भिंडरावाले के नासूर बनने की कहानी

भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री जिसे लोग आयरन लेडी कह कर बुलाते थे। इंदिरा गांधी, इंदिरा अपने

ऑपरेशन ब्लू स्टार: जब आंतकियों को मारने के लिए सेना को स्वर्ण मंदिर में घुसना पड़ा

3 जून 1984, जब पूरे देश में एक ही जगह की बात हो रही थी पंजाब में

  • सरदार वल्लभ भाई पटेल

बारदोली सत्याग्रहः वो सत्याग्रह जिसने वल्लभ भाई पटेल को सरदाल पटेल बना दिया

सरदार पटेल, हमारी एकता और अखंडता के प्रतीक। जिनकी सबसे बड़ी उपलब्धि आज़ाद भारत के 565 टुकड़ों

  • anil kumble

जब कुंबले के ऐतहासिक 10 विकेटों में सचिन लकी चार्म बन गये थे

क्रिकेट के इतिहास में हमने जाने कितने ही रिकाॅर्ड देखे हैं। सचिन का 100वां शतक देखा, सहवाग

विक्रम बत्रा: जिसने कहा था, मैं तिरंगा लेकर आऊंगा या तिरंगे में लिपटा हुआ

‘या तो मैं लहराते हुये तिरंगे के पीछे आऊंगा, या तिरंगे में लिपटा हुआ आऊंगा। पर मैं

कोशिश करने के बावजूद जब संघ के आगे अटल बिहारी वाजपेयी को झुकना पड़ा था

संघ यानि कि आरएसएस। जिसके बारे में कहा जाता है कि इसकी विचारधारा में हिंदुत्व और हिंदू

2019-08-19T14:18:36+05:30August 16th, 2019|अभी-अभी, रण, हिंदी|0 Comments