ज़रा आलम तो देखिये राजनीति का। हरियाणा के झज्जर जिले से भाजपा के मण्डल लेवल नेता धर्मेंद्र सैलानी ने अपने ही भाई पर बिना लाइसेंस वाली बंदूक से गोली चला दी। गोली चलाने का कारण था कि संडे को हुई लोकसभा चुनाव की वोटिंग में इनके भाई ने अपना वोट कांग्रेस को डाल दिया। बस इस बात पर नेता जी इतना गुस्सा गए कि अपने भाई पर गोलियां दाग दी।

धर्मेंद्र के भाई का नाम राजा सिंह है। राजा पर धर्मेंद्र ने 3 गोलियां दागी, जिसमें से 2 पैर पर और एक पेट में लगी। इस घटना के बाद राजा को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां सही समय पर इलाज हो जाने से उनकी जान बचाई जा सकी।
पुलिस ने धर्मेंद्र पर अटैम्प्ट टू मर्डर और आर्म्स एक्ट जैसे चार्ज लगाए हैं।

प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स: गूगल

धर्मेंद्र भाजपा मण्डल और बहादुर गढ़ सिविक बॉडी जैसी संस्थाओं के मेम्बर हैं। धर्मेंद्र के बड़े भाई हरिन्दर सिंह कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए हैं। पुलिस की कार्यवाही से पता चला है कि धर्मेंद्र ने राजा और उसके परिवार से बीजेपी को वोट डालने के लिए कहा था।

लेकिन राजा ने अपना वोट बीजेपी की बजाय कांग्रेस को डाला। उनके दूसरे भाई हरिन्दर ने भी राजा को कांग्रेस को वोट डालने की सलाह दी थी। इस बात को लेकर रविवार की रात राजा और धर्मेंद्र की बहस भी हुई थी और अगले ही दिन सोमवार को धर्मेंद्र 315 बोर गन लेकर राजा के घर पहुँच गया और उस पर गोलियां चला दी।

अब तक तो भाजपा की अंधभक्ति सिर्फ फेसबुक और व्हाट्सएप पर दिख रही थी लेकिन अब हालात ठीक नहीं लगते। अगर बीजेपी को वोट नहीं दिया तो गोली मार दी, वो भी अपने भाई को। आखिर कौन सी पार्टी ऐसे अपराध को देशभक्ति या राष्ट्रवाद कहेगी। इस तरह की घटना से हमारे समाज में फैल रहे अराजक तत्व काफी चिंता का विषय है और हमें सोचने पर मजबूर करते हैं। लोगों की मानसिक स्थिति को लेकर जल्द से जल्द कोई कदम उठाया जाना चाहिए। ऐसी विचारधारा जो अहंकार को बढ़ावा देती हो वो हमारे समाज के लिए सही नहीं हो सकती।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here