लोकसभा 2019 चुनाव में इस भोली-सी मासूम जनता को क्या-क्या देखना पड़ेगा. कभी कोई गेहूं काट रहा है तो कोई मुसलमानों को धमकी दे रहा है. अब एक नया बवाल सामने आया है. अब एंट्री हुई है काले संदूक की. ये संदूक है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का. इस वीडियो को लेकर जमकर हंगामा हो रहा है. कांग्रेस के नेताओं ने तो चुनाव आयोग से इसकी जांच की मांग की है.

फोटो सोर्स – गूगल

दरअसल, 9 अप्रैल को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में प्रधानमंत्री जब चुनाव प्रचार के लिए गए थे, तो उनके हेलीकॉप्टर से एक काला बक्सा उतारा गया था. आनंद शर्मा ने चुनाव आयोग से भी इस मामले की जांच करने को कहा है. कांग्रेस नेता ने कहा कि उस बक्से में क्या ले जाया गया था? इसकी सच्‍चाई सामने आनी चाहिए.

मोदी के हेलीकॉप्टर से उतारे गए ब्लैक बॉक्स को लेकर कांग्रेस के नेता आनंद शर्मा ने कहा कि –

‘प्रधानमंत्री मोदी के हेलीकॉप्टर के साथ वहां  3और हेलीकॉप्टर उतरे थे. उसके बाद वहां एक काला बक्सा उतारा गया और उसको एक प्राइवेट कार में डाल दिया गया. जिस कार में बक्सा डाला गया वह काफिले का हिस्सा नहीं थी. आखिरकार वह बक्सा कहां गया? वो गाड़ी किसकी थी? इसकी जांच की जानी चाहिए कि इस बक्से में क्या था?’

भाजपा का ज़वाब

भारतीय जनता पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर से उतारे गए ‘ब्लैक बॉक्स’ का राज खोल दिया है. चित्रदुर्ग जिले की भाजपा इकाई के अध्यक्ष केएस नवीन ने ज़वाब देते हुए कहा कि –

“ब्लैक बॉक्स’ में कुछ इलेक्ट्रॉनिक सामान और पार्टी लोगो थें जिन्हें रैली के दौरान पीएम मोदी के भाषण के लिए मंच पर लगाना था. ये SPG यूनिट का हिस्सा है. इसमें टेलीप्रॉम्पटर और अन्य समान रखे जाते हैं जिन्हें पीएम के भाषण के लिए मंच पर लगाना होता है. ‘ब्लैक बॉक्स’ में टेलीप्रॉम्पटर्स का एक सेट, उनकी केबल्स और पार्टी लोगो थे जिन्हें मंच पर लगाना था.”

केएस नवीन आगे कहते हैं कि ये ट्वीट कर्नाटक में कांग्रेस की हताशा को दिखाता है. बता दें कि कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्विटर पर काले बक्से वाला वीडियो डालकर कर चुनाव आयोग से ‘ब्लैक बॉक्स’ के जांच की मांग की थी. नवीन बताते हैं कि –

“ये ‘ब्लैक बॉक्स’ पीएम के तीन चॉपर्स में से किसी एक में लाया जाता है. SPG अधिकारियों (4 टेक्नीशियन) को इसे 10 मिनट के अंदर स्टेज पर लाना होता है. इस दौरान प्रधानमंत्री मंच पर अपना भाषण शुरू करने से पहले पार्टी के नेताओं और अन्य गणमान्य लोगों से बात कर रहे होते हैं.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here