तब की बात

व्हाट्सएप और फेसबुकिया ग्रुप पढ़ कर अगर नेहरू को गयासुद्दीन ग़ाज़ी समझने लगे हो, तो मालिक सही जगह पधारे हो। नेहरू-गाँधी की कुंडली के साथ-साथ पूरे इतिहास का पोथी-पन्ना यहीं मिलेगा।

टाइम मशीन होती तो आपको पीछे ही ले जाते। चूँकि वो तो है नहीं, इसलिए इतिहासकारों की किताबों का हवाला देते हुए करेंगे ‘तब की बात’।

  • सरोजिनी नायडूः खूब पढ़ाई की, जेल गईं और फिर देश की पहली महिला गर्वनर बन गईं

सरोजिनी नायडूः खूब पढ़ाई की, जेल गईं और फिर देश की पहली महिला गर्वनर बन गईं

भारत की पहली महिला गर्वनर कौन हैं? ये सवाल जीके की उस पतली किताब में जरूर होता

  • कहानी उस वीर शहीद की जिसे सबसे पहली बार सेना का सर्वोच्च सम्मान दिया गया था

कहानी उस वीर शहीद की जिसे सबसे पहली बार सेना का सर्वोच्च सम्मान दिया गया था

“मैं अपने सामने आए कर्तव्य का पालन कर रहा हूँ. यहाँ के हालातों में मुझे मौत का

  • गोडसे का वो एक बयान जिसने सावरकर को 'गांधी-हत्या' के आरोप से मुक्त कर दिया था

गोडसे का वो एक बयान जिसने सावरकर को ‘गांधी-हत्या’ के आरोप से मुक्त कर दिया था

बीजेपी, विनायक सावरकर को हिंदुत्व का दर्जा देती है और उनके नाम के आगे वीर लगाकर उनका

  • उस दिन की कहानी जब हमारे देश ने एक महात्मा की हत्या होते देखी

उस दिन की कहानी जब हमारे देश ने एक महात्मा की हत्या होते देखी

महात्मा गांधी। एक व्यक्ति कहूं या विचार। आज़ादी का मतवाला कहूं या बिना किसी डर के अंग्रेज़ो

  • सआदत हसन मंटो

मंटो: वो शख्स जिसे सच बोलने की ‘बीमारी’ थी और 43 साल की उम्र में मर गया

सआदत हसन मंटो. एक लेखक और कहानीकार. जिसे सच बोलने की बीमारी थी. ‘बीमारी’ इसलिए क्योंकि उसका

  • लाल बहादुर शास्त्री की आज पुण्यतिथि है

वह इंसान जिसने हमें रेल में पंखे दिए लेकिन, उनकी मौत आज भी रहस्य है

ज़िन्दगी में अक्सर उनलोगों को बहुत सम्मान मिलता है जो शून्य से शुरुआत कर के शिखर