अगर आपको याद होगा तो 25 दिसंबर 2018 को उत्तराखंड ऐसा पहला राज्य बना था जहां देश की पहली ड्रोन फोर्स बनाई गई थी। इस ड्रोन फोर्स से राज्य के 71% भू-भाग जो जंगल है, पर निगरानी रखने में मदद ली जा रही थी। ड्रोन फोर्स से वन, वन्य जीवों की सुरक्षा, खनन की निगरानी आदि में मदद मिलने की काफी उम्मीद भी थी। तब यह वन विभाग और प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि मानी जा रही थी। और हुआ भी वही, आज ड्रोन फोर्स के जरिये राज्य में एक बड़े पैमाने पर खनन की निगरानी की गई। लेकिन हाल ही में ड्रोन के मामले में एक और बड़ी बात हुई है।

ड्रोन के जरिये हॉस्पिटल पहुंचाया गया ब्लड सैंपल

उत्तराखंड में सीडी स्पेस रोबॉटिक लिमिटेड नाम का एक फार्म है। इस फार्म के मालिक हैं निखिल उपाधे जो कानपुर आईआईटी के छात्र रह चुके हैं। उपाधे ने एक मानव रहित विमान (ड्रोन) का निर्माण किया है। इस ड्रोन की मदद से टिहरी जिले से एक ब्लड सैंपल को बुराड़ी अस्पताल तक पहुंचाया गया। ड्रोन ने इस बीच कुल 36 किलोमीटर दूरी तय की। जिला अस्‍पताल के चीफ मेडिकल सुपरिन्‍टेंडेंट डॉ. एस. एस. पांगती ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि यह प्रयोग टिहरी गढ़वाल में चल रहे टेली मेडिसिन प्रोजेक्‍ट का एक हिस्‍सा था।

Drone
प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स- गूगल

क्या है ड्रोन की खासियत?

जिस ड्रोन का निर्माण निखिल उपाधे ने किया है उसकी खासियत काफी हैरान कर देने वाली है। 36 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए ड्रोन को केवल 18 मिनट का समय लगा। डॉ. पांगती का कहना है कि सड़क से दगांव पीएचसी से बुराड़ी हॉस्पिटल तक पहुंचने में लगभग 70 से 100 मिनट का समय लगता है। लेकिन ड्रोन ने मात्र 18 मिनट में यह दूरी तय की है। इस ड्रोन में एक कूलिंग किट भी है जिससे ब्लड सैंपल खराब न हो सके। इस अनोखे ड्रोन को बनाने वाले निखिल उपाधे का कहना है-

अभी इस ड्रोन की ट्रांसपोर्ट करने की क्षमता 500ml है। अगर इसे एक बार चार्ज कर दिया जाए तो लगभग 50 किलोमीटर का सफर आसानी से तय कर सकता है। लेकिन एक ड्रोन को बनाने के लिए लगभग 10 लाख रुपये का खर्च आने का अनुमान है।

अभी तो केवल इस ड्रोन से ब्लड सैंपल भेज कर एक प्रयोग किया है। इससे अब ग्रामीण क्षेत्रों में स्वस्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने में काफी मदद मिलेगी। उपाधे का कहना है कि आने वाले समय में आपातकालीन दवाईयों को इसी तरह भेज कर ट्रायल रन किया जाएगा।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here