खबर है कि सरकार की तरफ से वर्क फ्रॉम होम को अब एक्सटेंड करते हुए इसे 31 दिसंबर तक कर दिया गया है। दरअसल कोरोना को ध्यान में रखते हुए भारत में वर्क फ्रॉम होम शुरू किया गया था। एक बड़े तबके के लिए यह पहले अवसर की तरह था। सरकार ने इसे मार्च के आस-पास शुरू किया था। शुरू में कहा गया था कि  31 जुलाई तक लोगों को अपने घर से ही काम करना होगा। अब चूंकि भारत में जिस तरह से केसेज सामने आ रहे हैं उसको देखते हुए अब वर्क फ्रॉम होम को बढ़ाकर 31 दिसंबर तक कर दिया गया है। सरकार ने मंगलवार को इसकी घोषणा की है।

इसकी जानकारी दूरसंचार विभाग ने ट्वीट करते हुए दी है। दूरसंचार विभाग ने अपने एक ट्वीट में कहा,

विभाग ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण व्याप्त चिंता को देखते हुए वर्क फ्रॉम होम की सुविधा के लिए नियम और शर्तों में छूट को 31 दिसंबर 2020 तक के लिए आगे बढ़ा दिया है।

गौरतलब है कि दूरसंचार विभाग ने मार्च महीने में कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर अदर सर्विस प्रोवाइडर्स के लिए अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की सुविधा उपलब्‍ध कराने के लिए कुछ नियमों में छूट दी थी। इसके बाद इस छूट की समयावधि बढ़ाकर 31 जुलाई कर दी गई थी।

भारत में कोरोना केस 12 लाख पार 

मालूम हो कि भारत में कोरोना केसेज लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। हर रोज कोई न कोई नया रिकॉर्ड बन रहा है और हर रोज के आंकड़े अब 50 हजार के आसपास पहुंच चुके हैं। भारत में कोविड-19 के एक दिन में सर्वाधिक 45,720 नए मामले सामने आने के बाद बृहस्पतिवार को देश में संक्रमितों की कुल संख्या 12 लाख को पार कर गई। वहीं 1,129 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 29,861 हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में तीन दिन के अंदर ही कोविड-19 के मामले 11 लाख से 12 लाख के पार पहुंच गए हैं। कहीं न कहीं इसी बिगड़ती स्थिति को देखते हुए सरकार ने यह कदम उठाया है और अब वर्क फ्रॉम होम को बढ़ा दिया गया है। वहीं जहां तक वैक्सीन की बात है तो आपको मालूम होगा ही कि बड़ी-बड़ी संस्थाएं भी कह रही हैं कि 2021 से पहले इसकी संभावना बेहद कम है कि वैक्सीन आम लोगों के लिए उपलब्ध कराई जाने लगे। इस खबर में फिलहाल के लिए इतना ही, बने रहिए द कच्चा चिट्ठा के साथ।