ISSF वर्ल्ड कप फाइनल्स में भारत के युवा निशानेबाज मनु भाकर, दिव्यांश पंवार और इलावेनिल वलारिवान ने कल के दिन गोल्ड मेडल जीत कर को समस्त देशवाशियों के लिए यादगार बना दिया. देश के तीनों युवा शूटरों ने अपने-अपने वर्ग में शानदार प्रदर्शन से गोल्ड मेडल जीतकर दुनिया भर में तिरंगे को शान से लहरा दिया है.

युवाओं के उम्दा प्रदर्शन के दम पर भारत तीन स्वर्ण जीतकर मेडल की लिस्ट में सबसे ऊपर पहुँच गया है जबकि चीन इसी लिस्ट में दूसरे स्थान पर है. भारत के गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट कर इन तीनों खिलाड़ियों को बधाई दी है. उनका ये ट्वीट देख लीजिये:

इस साल ISSF विश्वकप में हुई महिलाओं की 10 मीटर एयर रायफल स्पर्धा भारत के लिए सबसे खास रहा है. दरअसल निशानेबाजी के स्पर्धा में हुए कुल 5 में से 4 स्वर्ण पदक भारत के खिलाड़ियों ने जीते हैं.

जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम करने वाली मनु भाकर

स्टार निशानेबाज मनु भाकर , फोटो सोर्स - गूगल

स्टार निशानेबाज मनु भाकर , फोटो सोर्स – गूगल

महज 17 साल की मनु भाकर ने जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ महिला 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट का गोल्ड मेडल अपने नाम किया. मनु भाकर ने शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए 244.7 का स्कोर बनाकर जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया है. 241.9 स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रही सर्बिया की जोराना अरुनोविच ने सिल्वर मेडल हासिल किया और वहीं चीन की क्वियान वांग ने 221.8 के स्कोर के साथ कांस्य पदक हासिल किया. ये ISSF का इस सीजन का अंतिम टूर्नामेंट था. बताते चलें कि मनु भाकर ने अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में कोटा भी हासिल कर चुकी हैं.

        इलावेनिल वलारिवान ने महिला 10 मीटर एयर राइफल में जीता सोना

निशानेबाजी में गोल्ड मेडल जीतने वाली इलावेनिल वलारिवान , फोटो सोर्स - गूगल

निशानेबाजी में गोल्ड मेडल जीतने वाली इलावेनिल वलारिवान , फोटो सोर्स – गूगल

20 साल कि इलावेनिल वलारिवान  ने महिलाओं के 10 मीटर एयर रायफल प्रतियोगिता के फाइनल में 250.8 के स्कोर के साथ ताइवान की खिलाड़ी को 1 पॉइंट से हराते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया. जबकि 250.7 के स्कोर के साथ ताइवान के खिलाड़ी लिन को सिल्वर मेडल मिला. इसके अलावा 229 के स्कोर के साथ रोमानिया की लोरा-जॉर्जेटा कोमान को तीसरे पायदान पर रहते हुए ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा.

भारत की एक और खिलाड़ी मेहुली घोष ने भी इसी इवेंट के लिए क्वॉलिफाइ किया था. मेहुली 163.8 के स्कोर के साथ इस प्रतियोगिता में छठवें नंबर पर रहीं.

दिव्यांश ने पुरुषों के 10 मीटर एयर रायफल इवेंट में गोल्ड जीता

 पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वाले दिव्यांश

पुरुषों के 10 मीटर एयर रायफल इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वाले दिव्यांश

17 साल के दिव्यांश पंवार ने 250.1 अंकों के साथ पहला स्थान हासिल किया, वहीं हंगरी के पेनी इसतवान ने 250 अंकों के साथ सिल्वर और जेनी पैट्रिक ने 228.4 अंकों के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता. पुरुष वर्ग के 10 मीटर पिस्टल निशानेबाजी प्रतियोगिता में भारत के अभिषेक वर्मा और सौरभ चौधरी ने फाइनल के लिए क्वालिफाई किया था लेकिन वे मेडल हासिल करने से चूक गए. इस प्रतियोगिता में जहां अभिषेक पांचवे आए वहीं सौरभ चौधरी छठवे स्थान पर रहे.

गौरतलब है कि दिव्यांश ने इस साल बीजिंग में हुए वर्ल्ड कप में सिल्वर मेडल जीतकर पहले ही टोक्यो ओलिंपिक के लिए कोटा हासिल कर लिया है. वहीं म्यूनिख वर्ल्ड कप में दिव्यांश ने मिक्स्ड टीम इवेंट में अंजुम मुद्गिल के साथ गोल्ड मेडल जीता था.

ये भी पढ़ें: “धोनी बनने के बजाय अगर ऋषभ पंत अपने खेल पर ध्यान दें तो ज्यादा बेहतर होगा” – गिलक्रिस्ट