मेघालय के गवर्नर तथागत रॉय ने पश्चिम बंगाल की लड़कियों और लड़कों के लिए बहुत ही घटिया ट्वीट किया है. उन्होंने ट्वीट किया

‘इन महान हस्तियों और विपक्षियों के बीच हिंदी के विरोध करने को लेकर क्या संबंध है? उन्हें कौन समझाएगा कि इन हस्तियों का एक युग था जो कि अब नहीं रहा और इसी के साथ ही बंगाल का गौरव भी चला गया. अब हरियाणा से केरल तक बंगाली लड़के घरों में पोंछा लगाते हैं और बंगाली लड़कियां मुंबई में बार डांसर हैं.’

गवर्नर साहब के द्वारा किया गया यह ट्वीट बंगाल के लड़के-लड़कियों के साथ-साथ पोछा मारने वाले और डांस बार में नाचने वाली लड़कियों का भी घोर अपपान किया है. एक गवर्नर से इस तरह के बयान की उम्मीद नहीं की जा सकती है.

मेघालय गवर्नर तथागत रॉय, फोटो सोर्स-गूगल

गवर्नर साहब ने ऐसा कहा क्यों?

तथागत रॉय बंगाल से ताल्लकु रखते हैं और बाजेपी के पूर्व नेता रह चुके हैं. दरअसल, में तथागत रॉय ने हिंदी सीखने का विरोध कर रहे कुछ राज्यों पर ट्वीटर के जरिए अपने विचार रखे थे. जिसमें उन्होनें ट्वीट कर कहा ‘यह कोई बहुत बड़ा विरोध नहीं. वे लोग सिर्फ राजनीतिक कारणों की वजह से शोर मचा रहे हैं. अमस महाराष्ट्र, ओडिशा भी गैर-हिंदी वाले राज्य हैं लेकिन वह तो हिंदी का विरोध नहीं करते. वहीं दूसरी तरफ बंगाल में हिंदी का यह कहकर विरोध किया जा रहा है कि यह विद्यासागर, विवेकानंद, रवींद्रनाथ टैगोर और नेताजी सुभाषचंद्र बोस की धरती है.’ रॉय का कहना है कि बंगाल कभी महान हुआ करता था. अब इसकी महानता चली गई है. उन्होंने कहा कि अब बंगाली लोग फर्श साफ कर रहें हैं और बंगाली लड़कियां बार में डांस कर रहीं हैं.

राज्यपाल तथागत रॉय कुछ राज्यों में हिंदी भाषा पढ़ाए जाने को लेकर हो रहे विरोध पर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे थे और इसी को लेकर उन्होंने कई ट्वीट किए जिस पर हंगामा मचा हुआ है. तृणमूल कांग्रेस ने राज्यपाल के इस बयान पर विरोध प्रदर्शन किया है. सांसद काकोली घोषी दस्तीदार ने हजरा इलाके में रॉय के इस बयान के खिलाफ धरना भी दिया. बंगाल में वैसे ही चुनाव के पहले से ही लगातार राजनीतिक हिंसा हो रही है, जिसके कारण कई लोग अपनी जान गवां चुके हैं. अब गवर्नर साहब के इस बयान से बंगाल में बवाल मचना तो तय माना जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here