आईपीएल 2019 के सारे मैच ख़त्म हो चुके हैं. ये भी डिसाइड हो चुका है कि टूर्नामेंट का विनर कौन है. चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियन्स के बीच फ़ाइनल मैच खेला गया और मुबई इंडियन्स ने चौथी बार आईपीएल टूर्नामेंट जीत लिया है. इस पूरे टूर्नामेंट में मुंबई इंडियंस एक भी बार चेन्नई से नहीं हारी. मुंबई ने पहले बैटिंग की और 149 रन बनाए. चेन्नई जैसी टीम जब सामने हो तो लगता है स्कोर बहुत छोटा है लेकिन जब सामने मुंबई हो तो कुछ भी हो सकता है और यही हुआ. इस छोटे स्कोर को मुंबई इंडियंस ने डिफेंड किया और चेन्नई सुपर किंग्स 1 रन से ये मैच हार गई.
Related image
आखिरी ओवर के हीरो रहे मलिंगा. फोटो सोर्स: गूगल
रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया. मुंबई इंडियंस को क्विंटन डी कॉक और रोहित शर्मा ने तेज़ शुरुआत दी लेकिन उनके आउट होने के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स ने जबरदस्त वापसी की. इसके बाद कोई भी बल्लेबाज ज्यादा बड़ी पारी नहीं खेल पाया. मुंबई की ओर से सबसे ज्यादा रन पोलार्ड ने बनाये. पोलार्ड ने 41 रनों की पारी खेली.
19वें ओवर में 140 के स्कोर पर हार्दिक पांड्या के आउट होने से मुंबई इंडियंस को बड़ा झटका लगा और उसी ओवर में दीपक चाहर ने राहुल चाहर को भी आउट किया. केरोन पोलार्ड ने 25 गेंदों में 41 रनों की पारी खेलकर टीम को 150 के पास पहुँचाने में बड़ा योगदान दिया। आखिरी ओवर में मिचेल मैक्लेनेघन खाता खोले बिना रन आउट हुए. मुंबई इंडियंस ने आखिरी 5 ओवर में 47 रन बनाये. मुंबई इंडियन्स ने 20 ओवर में 149 रन बनाए. चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ से दीपक चाहर ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए। उनके अलावा इमरान ताहिर ने दो और शार्दुल ठाकुर ने दो-दो विकेट लिए।
Related image
प्रतीकात्मक तस्वीर. फोटो सोर्स: गूगल
150 के लक्ष्य के जवाब में चेन्नई सुपरकिंग्स ने तेज़ शुरुआत देने की कोशिश की लेकिन चौथे ओवर में जब टीम का स्कोर 33 रन था तब, डू प्लेसी के आउट होने से चेन्नई को पहला झटका लगा. इसके बाद शेन वॉटसन और सुरेश रैना ने स्कोर को आगे बढ़ाया 10वें ओवर में रैना और 11वें ओवर में अम्बाती रायडू के आउट होने से चेन्नई को दोहरा झटका लगा.
मुंबई इंडियंस को सबसे बड़ी सफलता 13वें ओवर में मिली, जब चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को 2 रन पर रन आउट कर दिया, जिससे मैच रोमांचक हो गया। 15 ओवर के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स का स्कोर था 4 विकेट के नुकसान पर 88 रन. आखिरी 5 ओवर में चेन्नई को जीत के लिए 62 रनों की जरूरत थी. 16वें ओवर में चेन्नई सुपरकिंग्स ने 20 रन बनाकर मैच को अपनी तरफ मोड़ने की कोशिश की।
Related image
वाटसन ने अकेले दम पर चेन्नई के जीत की उम्मीद बनाए रखी. फोटो सोर्स: गूगल
क्रुणाल पांड्या के 18वें ओवर में शेन वॉटसन ने तीन छक्के लगाए और मुंबई इंडियंस को बड़ा झटका दिया। हालाँकि 19वें ओवर में बुमराह ने ड्वेन ब्रावो को आउट करके चेन्नई को पांचवा झटका दिया. आखिरी ओवर में चेन्नई सुपरकिंग्स को जीत के लिए 9 रनों की जरूरत थी लेकिन चौथी गेंद पर शेन वॉटसन के आउट होने से चेन्नई को बड़ा झटका लगा. आखिरी गेंद पर 2 रनों की जरूरत थी और मलिंगा ने शार्दुल ठाकुर को आउट करके मुंबई को एक रन से खिताबी जीत दिला दी। शेन वॉटसन ने 59 गेंदों में 80 रनो की शानदार पारी खेली, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके.

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here