पोलाची सेक्स स्कैंडल के विरुद्ध में पुदुक्कोट्टई सरकारी महिला आर्ट्स कॉलेज की 100 से ज़्यादा छात्राओं ने धरना प्रदर्शन किया है. धरना देने के क्रम में पुलिस ने उन्हे वहाँ से हटाने की कोशिश की और कई छात्राओं को हिरासत में भी लिया है.

पोलाची रेप केस में पकड़े गए चारो आरोपी/ फोटो सोर्स गूगल

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गयी थी जिसमें कोर्ट कि निगरानी में जांच की मांग की गयी थी साथ ही यह भी मांग की गयी थी कि इस केस की जांच तमिलनाडु के बाहर की जाये. इस केस को अब सीबी–सीआईडी को सौंप दी गयी है. सीबी, सीआईडी की एक स्पेशल ब्रांच है जो अब इस मामले पर जांच करेगी. इस मामले में जांच को लेकर लोकल पुलिस ने भी सीबीआई को पत्र लिखा है. कोइम्बतूर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने शुक्रवार को चारों आरोपियों को चार दिन के कस्टडी में भेजा है. जेल से ही विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये इस केस पर सुनवाई हुई.

13 मार्च मंगलवार को पोलाची में विपक्षी रेप केस में विरोध प्रदर्शन किया गया/ फोटो सोर्स गूगल

दूसरी तरफ 100 से अधिक शिकायत मोबाइल फोन के ज़रिये सीबी-सीआईडी को दर्ज़ कराई गयी है. एक दिन पहले ही इस फोन नंबर को रिलीज किया गया था जिसके बाद अब तक 100 से अधिक कम्पलेन बूक हो चुकी है. जब यह घटना सामने आई थी तब पुलिस ने 9488442993 नंबर चालू किया था और कहा था कि इस केस से संबन्धित जो भी महिला अपना शिकायत दर्ज़ करना चाहती हैं वो एसएमएस के ज़रिये कर सकती है. पुलिस उनकी गोपिनयता को बरकरार रखेगी.

धरणा पर बैठी छात्राएँ/फोटो सोर्स गूगल

इस नंबर के रिलीज करने के 15 घंटे के अंदर 100 से अधिक शिकायत दर्ज़ हो चुकी है. पुलिस के मुताबिक मुख्य आरोपी थिरुनावूकरसु एक फाइनान्सर है. वह अपने इलाके के कई महिलाओं को पैसे उधार दिया करता था और जो भी महिलाएं सही समय पर पैसे वापस नहीं किया करती थीं उनके साथ वह अभद्रता करता था और उन्हे प्रताड़ित किया करता था.

यह केस धीरे-धीरे काफी बड़े स्तर पर खुलता जा रहा है. पहले सिर्फ 50 महिलाओं के बारे में खबर आई थी पर अचानक से 100 महिलाओं द्वारा दर्ज कराई शिकायतों का सामने आना इस केस में एक और मोड लेकर आ गया है. इस केस के बारे में जानने के लिए बने रहिए हमारे साथ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here