पवित्र रमजान खत्म होने के बाद जहां एक ओर पूरे देश में ईद का त्योहार शांति और हर्ष उल्लास के साथ मनाया गया. वही दूसरी ओर जम्मू कश्मीर के कई जिलो में लोगों ने ईद की नमाज के बाद खुब उपद्रव मचाया. नकाब पोश युवाओ ने पाकिस्तान और आतंकी सगठनों के झंडे फहराए, हाफ़िज़ सईद, जाकिर मूसा का पोस्टर लिए देश विरोधी नारे लगाए, सुरक्षाबलों पर पत्थर बरसाए गए.

ईद के दिन पथराव करते पत्थरबाज़ ,  फोटो सोर्स – गूगल

इन देश विरोधी नारों और सुरक्षाबलों पर होती पत्थरबाजी के दौरान की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. इस तस्वीर में एक सुरक्षाबल एक कश्मीरी बुजुर्ग महिला को उन पत्थरों से बचाता हुआ नजर आ रहा है जो पत्थर जवान को घायल करने के लिए कश्मीरियों द्वारा ही फेके गए थे.

ये तस्वीर अपने आप एक सबक है उन कश्मीरियों के लिए जो चंद पैसो की लालच में आकर अपने पाकिस्तानपरस्त आकाओं के इशारों पर सुरक्षाबलों पर पत्थर फेकते है. यह खूबसूरत और ताकतवर तस्वीर ईद जैसे मोहब्बत के त्योहार पर घाटी में पत्थरबाजी की परंपरा बनाने वाले नापाक ताकतों के गाल पर करारा तमाचा है.

पथराव में फंसी बुजुर्ग महिला को बचाता सुरक्षाकर्मी, फोटो सोर्स – गूगल

ईद के दिन कश्मीर के अलग-अलग इलाको में हुये प्रदर्शनो की तस्वीर समझाने के लिए हम आपको जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में हुई एक घटना के बारे में बताते है.

जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर की जामिया मस्जिद के बाहर ईद की नमाज अदा करने के बाद उपद्रवियों ने जमकर वबाल काटा. मस्जिद से निकल कर लोगों ने आतंकी जाकिर मूसा और घोषित अंतर्राष्ट्रीय आतंकी मसूद अजहर के समर्थन में पोस्टर बैनर लहराए. वहीं कई नकाब पोश युवाओ ने ‘कश्मीर बनेगा पाकिस्तान’ जैसे नारे लिखे पोस्टर दिखाये.

फोटो सोर्स -गूगल

सूचना मिलते ही उपद्रीवियों को रोकने के लिए मौके पर जब सुरक्षाबल पहुंचे तो उनपर भी जमकर पत्थर बरसाए गए. इस पथराव में कई सुरक्षाबलों को गंभीर चोटें भी लगी.

कुछ ऐसी ही तस्वीरे उत्तरी कश्मीर के सोपोर और दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग से सामने आई है.

इतना सब कुछ होने के बावजुद पुलिस अधिकारियों ने बताया कि, सुरक्षाबलों ने बिगड़ी कानून-व्यवस्था को ठीक करने और उपद्रवियों से निपटने में बहुत धैर्य और नियंत्रण दिखाया.

सुरक्षाबलों के इसी धैर्य और नियंत्रण का सबूत देती है वायरल हो रही ये तस्वीरें.

पत्थरो से बुजुर्ग महिला को बचाते सुरक्षाबल की ये कोई पहली तस्वीर नहीं है. इससे पहले भी ऐसी कई तस्वीरें सामने आ चुकी हैं जिनमे सुरक्षाबल बिना किसी द्वेष के निस्वार्थ भाव से कश्मीरियों की मदद करते हुये नजर आते है.

 

लोगों को बचते सुरक्षाबल , फोटो सोर्स – गूगल

 

भूखे बच्चे को खाना खिलते इस जवान की भी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी

वहीं इस मामले का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें दो अलग अलग तरह की फुटेज है. इस वीडियो की एक फुटेज में देखा जा सकता है कि बारामुला की सड़क पर पत्थरबाजों द्वारा अंधाधुंध पथराव किया जा रहा है. जवानों पर पत्थर फेकते हुये पत्थरबाज़ सामने किसी को देख भी नहीं रहे हैं कि कौन है या क्या है? तभी इसी बीच अचानक एक बुजुर्ग महिला आ जाती है, जिसको एक सुरक्षाबल बचाकर सुरक्षित स्थान पर पहुँचाता है. वही दूसरे फुटेज में, बारामूला की सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हिंसक भीड़ इस्लामिक स्टेट के झंडे लहराती हुई पत्थरबाजी कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here