भारत में महिलाओं के अधिकारों के लिए कई आवाज़ें खूब ज़ोर-ज़ोर से उठती हैं. लेकिन जब हम उनके जीवन की बेसिक ज़रूरतों के बारे में बात करते हैं तो उसमें सेक्स को शामिल नहीं किया जाता. मानो ये महिलाओं के लिए है ही नहीं. क्योंकि हमारे यहां महिलाओं को देवी की उपाधि दी गई है और सेक्स की इच्छा भी रखने से उनकी पवित्रता खत्म हो जाएगी. हां, सेक्स करने की मनाही नहीं हैं कर सकती हैं लेकिन सिर्फ बच्चा पैदा करने के लिए या फिर अपने पति के साथ उसकी मर्जी अनुसार.

हम इस सीरीज़ में भारत की ग्रामीण महिलाओं के यौन जीवन के बारे में बताएंगें. यौन जीवन यानि उनकी सेक्स लाइफ. सेक्स को लेकर उनके डिज़ायर्स, उनके अनुभव और उनकी सोच पर बात करेगें.

इस सीरीज़ की पहली किस्त में महाराष्ट्र के सांगली जिले में रहने वाली सुनीता के जीवन से जुड़े अनुभवों को साझा किया जा रहा है. उनका नाम उनकी पहचान की गोपनियता को ध्यान में रखते हुए बदल दिया गया है.

पहली बार सुनीता ने सेक्स अपने पति के ही साथ किया था. तब उसकी उम्र 17 और उसके पति की उम्र 25 वर्ष थी. दोनों महाराष्ट्र के सांगली जिले में मवेशी पाला करते थे. शादी के शुरूआती पांच सालों में सुनीता को दो बच्चे हुए. उसके जीवन में सेक्स सही था. ज़्यादा बेहतर नहीं था, पर मिल रहा था. लेकिन फिर सुनीता के पति ने शराब पीना शुरू कर दिया. वो खूब शराब पीने लगा. जिसके कारण उनका रिश्ता बहुत कमज़ोर हो गया उनके जीवन से सेक्स लगभग गायब हो गया. जब भी सुनीता का पति घर आता तो वो नशे में होता और सुनीता के पास बैठने या उससे बात करने के बिल्कुल मूड में नहीं होता था. सुनीता प्यार चाहती थी लेकिन इसके साथ ही साथ उसके शरीर को सेक्स की भी ज़रूरत थी. जिसमें कुछ भी गलत नहीं था.

प्रतीकात्मक तस्वीर. फोटो सोर्स- गूगल

वो कई बार अपने पति से सेक्स करने की इच्छा ज़ाहिर करते हुए कहती कि उसका ‘बदन आग की तरह जल रहा है’ . इसके जवाब में उसका पति कहता कि “कुछ शर्म कर, दो-दो बच्चों की मां है! तेरे दिमाग में ये सारी चीज़े डाल कौन रहा है कोई यार है क्या?”

इसके बाद सुनीता ने इस बारे में कुछ भी कहना बंद कर दिया. वो खुद को अपने कामों में व्यस्त रखने लगी, बच्चों को पालना, मवेशियों का दूध बेचना और घर का ध्यान रखना. लेकिन कुछ दिनों बाद सुनीता का पति बीमार हो गया. सुनीता कई बार इन सब के चलते अपने पति को अस्पताल लेकर जाती जिसमें उसके पति का एक रिश्तेदार राकेश (बदला हुआ नाम) उसकी मदद करने लगा. वो कई दफे सुनीता के साथ अस्पताल जाता, दवाईयां खरीदता और कई बार तो बिल भी भर देता.

सुनीता राकेश के प्रति आकर्षित होने लगी. राकेश भी शादी-शुदा था. दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया. दोनों के बीच सेक्स भी हुआ. सुनीता बताती है कि राकेश साथ सेक्स बहुत अलग था. जब वो अपने पति के सात सेक्स करती थी तो किसी काम की तरह लगता था. लेकिन राकेश के साथ ये एक-दम फिल्मों की तरह होता था.

प्रतीकात्मक तस्वीर. फोटो सोर्स- गूगल

अपने अफेयर को याद करती हुई सुनीता बताती है-

“हम अपने सारे कपड़े उतार देते थे, बिना कपड़ों के एक-दूसरे के शरीर को देखते थे. हम जब भी सेक्स करते थे तब बिस्तर पर 2-3 घंटे बिताते थे और ये किसी काम की तरह नहीं लगता था ये सेक्स की तरह लगता था.”

सुनीता राकेश को बता पाती थी कि बिस्तर में वो क्या चाहती थी और राकेश सुनीता को बता पाता था. गांव वालों ने इन्हें मिलते-जुलते देखा था. कई बार ये दोनों एक-दूसरे के बहुत करीब होते थे. जब गांव वाले इन्हें देखते थे. लोगों ने बातें बनाना शुरू कर दिया था. लेकिन सुनीता का पति बिस्तर पकड़े था और गांव वाले जानते थे कि वो किसी भी तरह के शारीरिक संबंध बनाने में सक्षम नहीं है. किसी ने भी कुछ नहीं कहा और गांव वालों की बातें अपने आप रूक गईं. 2 साल बाद सुनीता के पति का देहांत हो गया और अब वो किसी दूसरे मर्द के साथ एक रिश्ते में है जो उससे 14 साल छोटा है. राकेश के साथ अफेयर के समय सुनीता की उम्र 33 साल थी और अब वो 36 साल की है.

आम सामाजिक धारणा से अगर सुनीता को जज किया जाए तो आप ज़रूर उसे चरित्रहीन कहेगें. लेकिन समाज की बनाई हुई इन धारणाओं को किनारे रख कर अगर एक इंसान के रूप में सुनीता को देखेगें तो आप अपनी ज़रूरतें पूरा करता एक इंसान पाएंगे. चूंकि महिलाओं को हमेशा से सिखाया जाता है कि सेक्स उनके लिए एक काम की तरह है इसलिए वो अपनी इच्छाओं और ज़रूरतों को समझ ही नहीं पाती हैं और उसी ढ़र्रे के अनुसार चलती रहती हैं, जो उनके सामने बनाकर परोसा गया है.

अपनी अगली सीरीज़ में हम लेकर आएगें कि सुनीता से जब सेक्स पर सवाल किया गया तो उसने क्या जवाब दिया और इसके साथ ही शादी से पहले अपनी सेक्स की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए ग्रामीण महिलाएं क्या करती हैं और उन्हें किस तरह की सम्याओं का सामना करना पड़ता है.

 

इस आर्टिकल के इनपुट्स अंग्रेज़ी वेबसाइट livemint से लिए गए है.

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here