आखिरकार वेस्टइंडीज के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान हो ही गया। बीसीसीआई के लिए यह बहुत ही पेचीदा मामला था। अभी तक ऐसा नहीं हुआ था कि बीसीसीआई टीम सेलेक्शन करने में किसी तरह की दुविधा में पड़ी हो। इस दुविधा की सबसे बड़ी वजह महेन्द्र सिंह धोनी को लेकर फैसला करने की थी। लेकिन जब धोनी ने खुद ही अपना फैसला सुना दिया तो इसके बाद बीसीसीआई के लिए टीम का ऐलान करना काफी आसान हो गया।

वेस्टइंडीज दौरे के लिए चुने गए खिलाड़ियों में कई नए चेहरों को भी मौका मिला है तो कई ऐसे भी फैसले आए जो चौंकाने वाले हैं। टीम का सेलेक्शन टी-20 विश्व कप को ध्यान में रखकर किया गया है, इस बात को पहले ही मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद कर चुके हैं।

Image result for india team for we
प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स: गूगल

टीम का ऐलान होने से पहले ये भी बातें कही जा रहीं थी कि विराट और रोहित के बीच कप्तानी शेयर किया जा सकती है। कुछ लोगों का कहना था कि विश्व कप के सेमीफाइनल में मिली हार के बाद टीम दो भागों में बंट गई है। लेकिन जब वेस्टइंडीज के लिए टीम का ऐलान किया गया तो ये सभी बातें सिर्फ अफवाह साबित हुईं और तीनों फॉर्मेट के लिए विराट कोहली को ही कप्तान बनाया गया। मुंबई में बीसीसीआई दफ्तर में चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद और विराट कोहली के आलावा और भी BCCI के बाकी सदस्य थे। इस मीटिंग में कई नए चेहरों पर भी फैसला लिया गया।

वेस्टइंडीज दौरे पर भारतीय टीम तीन टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने वाली है। इस सीरीज का पहला मैच अगस्त के पहले हफ्ते से ही शुरु हो रहा है। एमएसके प्रसाद ने टीम का ऐलान करते हुए कहा कि भारतीय A टीम के खिलाड़ियो ने वेस्टइंडीज में जिस तरह से प्रदर्शन किया है उसका फायदा उन्हें मिला है। एमएस धोनी और जसप्रीत बुमराह को आराम दिया गया है जबकि दिनेश कार्तिक को उनके खराब प्रदर्शन के कारण टीम से बाहर कर दिया गया है।

Image result for india team for we
प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स: गूगल

टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम

विश्व कप के दौरान जब शिखर धवन के बाद विजय शंकर चोटिल होकर टीम से बाहर हो गए तो मयंक अग्रवाल को बुलाया गया जिसके बाद काफी बवाल हुआ था। क्योंकि मयंक के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई थी। अंबाती रायडू पहली पसन्द थे, ऐसा मानना था क्रिकेट फैंस का। हलांकि विश्व कप के दौरान कोई मैच खेलने का मौका नहीं मिला लेकिन बवाल मचाने के लिए उनका टीम से जुड़ना ही बहुत था। वेस्टइंडीज दौरे के लिए उन्हें मुरली विजय की जगह टीम में शामिल किया गया है। बीसीसीआई ने जो वेस्टइंडीज के लिए अपनी टेस्ट टीम का ऐलान किया है वह कुछ इस तरह का है।

विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), मयंक अग्रवाल, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, रोहित शर्मा, रिषभ पंत (विकेटकीपर), रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और उमेश यादव।

टेस्ट मैच में पंत के अलावा साहा को भी अतिरिक्त विकेटकीपर के रुप में शामिल किया गया है। अगर पंत का प्रदर्शन टी-20 और वनडे में कुछ खास नहीं रहा तो टीम साहा के साथ मैदान पर उतर सकती है।

टी-20 के लिए भारतीय टीम

भारत ने टी-20 के लिए जो टीम चुनी है ऐसा कहा जा रहा है कि टी-20 विश्व कप को ध्यान में रखकर यह फैसला लिया गया है। यही वजह है कि इस टीम में कई नए चेहरों को शामिल किया गया है। टी-20 के लिए टीम में जिन खिलाड़ियों का ऐलान किया गया है उनके नाम हैं-

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), शिखर धवन, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), कृणाल पांड्या, रवींद्र जडेजा, वाशिंगटन सुंदर, राहुल चहर, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद, दीपक चहर और नवदीप सैनी।

वेस्टइंडीज में अभी हाल ही में खत्म हुए वनडे सीरीज में जिस तरह का प्रदर्शन भारतीय खिलाड़ियों द्वारा किया गया है उसका फायदा उन्हें मिला है। नवदीप सैनी, राहुल चहर, दीपक चहर, क्रुणाल पाण्ड्या जैसे खिलाड़ी भी अब वेस्टइंडीज में खेलते हुए दिखेंगे।

वनडे के लिए भारतीय टीम

वनडे में दोनों स्पिनर्स कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को शामिल किया गया है जबकि टी-20 के लिए जिन खिलाड़ियों को शामिल किया गया हैं उनमें इनका नाम नहीं है। मतलब साफ है कि भारत आने वाले टी-20 विश्व कप में एक नई टीम के साथ दिखने की तैयारी कर रही है। विश्व कप में मात्र एक मैच खेलने वाले रवीन्द्र जडेजा को वनडे और टी-20 दोनों सीरीज में शामिल किया गया है। शायद टीम इंडिया को अपनी गलती का एहसास हो गया है। वनडे में जो खिलाड़ी भारतीय टीम में देखने को मिलेगे हैं –

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), शिखर धवन, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), कृणाल पांड्या, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, केदार जाधव, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद और नवदीप सैनी। 

जिस तरह की टीम का ऐलान वेस्टइंडीज दौरे के लिए किया गया है उससे तो यही लग रहा है कि कई खिलाड़ियों का अब राष्ट्रीय टीम से पत्ता कट गया है। जिसमें दिनेश कार्तिक पहला नाम है।