भारत में आईपीएल ने एक अलग ही जगह बनाई है। यह भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के क्रिकेट फैंस के लिए काफी रोमांच वाली सीरीज है। पूरे विश्व के खिलाड़ी किसी सीरीज में खेलें या न खेलें लेकिन, आईपीएल में जरुर खेलने को तैयार रहते हैं। बीसीसीआई भी इसके पीछे काफी मेहनत करती है और समय-समय पर इसके नियमों में बदलाव करती है ताकि इसके रोमांच को बरकरार रखा जाए। कुछ ऐसा ही एक बार फिर देखने को मिलेगा IPL-2020 में।

एक बार फिर आईपीएल के नियमों में बदलाव होने की बात चली है और उसे एक्सेप्ट भी कर लिया गया है। यह नया नियम टीम और मैच के रोमांच को बनाए रखने के लिए किया गया है। BCCI ने मीटिंग एक की, जिसके बाद IPL-2020 में कुछ अलग नियम लागू करने पर बात चली। इस नियम को पास भी कर दिया गया है। अब केवल मंगलवार का यानि 5 नवंबर का इंतजार है। मुंबई में आईपीएल काउंसिल की मीटिंग होनी है। इस मीटिंग में इस नियम के बारे में चर्चा की जाएगी। अगर सब कुछ ठीक रहा तो आने वाला आईपीएल-2020 काफी रोमांचक होगा।

क्या है नया नियम?

बीसीसीआई ने बीते सोमवार एक मीटिंग की और उसमें भारत ही नहीं बल्कि, विश्व के सबसे महंगे और रोमांचक टूर्नामेंट को ज़्यादा फेमस करने के लिए कुछ नियमों में बदलाव किए हैं। इस नए नियम को ‘पावर प्लेयर’ का नाम दिया गया है। अब आईपीएल की हर टीम 11 की जगह 15 प्लेयर्स का नाम लिस्ट में शामिल करेगी। इसके बाद किसी भी वक़्त अगर किसी प्लेयर की जरुरत होती है तो, उसका यूज कर सकती है।

प्रतीकात्मक तस्वीर, फोोटो सोर्स: गूगल
प्रतीकात्मक तस्वीर, फोोटो सोर्स: गूगल

इस नियम को एक उदाहरण के माध्यम से समझना बहुत आसान होगा। मान लीजिए किसी मैच का 19वां ओवर चल रहा हो और फील्ड पर बैटिंग करने के लिए बुमराह और लसीथ मलिंगा बैटिंग कर रहे हों। टीम को चाहिए 26 रन लेकिन, उस मैच के प्लेइंग इलेवन में कोरॉन पोलार्ड का नाम ही न हो। इसके बाद अगर टीम का कप्तान चाहे तो बुमराह या मलिंगा को बाहर बुलाकर उनकी जगह किरॉन पोलार्ड को फील्ड में बैटिंग के लिए भेज सकता है। इसके ठीक उल्टा अगर कोई बॉलर प्लेइंग 11 से बाहर हो और लेकिन, प्लेइंग 15 में शामिल है तो टीम को ज़रुरत पड़ने पर बॉलिंग के लिए आ सकता है।

इस नियम को लागू करते वक्त टीम के अधिकारी का कहना है कि इस नियम के बाद टीम के कप्तान को भी हर मैच में नए सिरे से सोचने पर मजर होना पड़ेगा। ऐसे में अब IPL-2020 काफी रोमांचक होने वाला है। आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में इस नियम के अलावा सदस्य IPL-2020 की समीक्षा करेंगे। साथ ही इस बात पर भी चर्चा होगी कि आगामी सीजन को और लोकप्रिय कैसे बनाया जाए।

ये भी पढ़े:- केवल क्रिकेट करियर ही नहीं, विराट कोहली की लव स्टोरी भी काफी मज़ेदार है