अगर कहा जाए कि खट्टर साहब की इच्छा पर पानी फिर गया है तो आपके मन में उनकी इच्छा जानने की बात जरुर आएगी। जब सभी कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद अलग-अलग मुद्दों पर बात कर रहे  थे तो उस वक्त खट्टर साहब कश्मीर से लड़की लाने की बातें कर रहे थे। 10 अगस्त को खट्टर साहब द्वारा दिए भाषण में जब यह बात कही गई तब उनके खिलाफ कई लोगों ने शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद उन्हें भी लग गया था कि शायद उन्होंने कुछ गलत बोल दिया है और फिर उन्होंने अपने बयान पर सफाई भी दी थी।

ताजा मामला उनके ही बयान से जुड़ा हुआ है। दरअसल, बिहार के सुपौल जिले में रहने वाले दो लड़कों ने कश्मीर की दो सगी बहनों से शादी की और उसके बाद बवाल शुरु हो गया। दोनों लड़के भी सगे भाई हैं और उनका शादी करना काफी महंगा पड़ गया। कश्मीर की रहने वाली लड़कियों के पिता ने कश्मीर के पुलिस स्टेशन में अपहरण का मामला दर्ज करवाया। जिसके बाद ये दोनों भाई पुलिस की गिरफ्त में हैं।

बिहार के लड़के जिन्हें कश्मीर ले जाया गया है, फोटो सोर्स:गूगल

जब दोनों भाईयों के खिलाफ मामला दर्ज कर कश्मीर पुलिस ने खोज शुरु की तो वो दोनों भाईयों को खोजते-खोजते बिहार चली आई और फिर स्थानीय पुलिस की मदद से दोनों भाईयों को गिरफ्तार कर लिया और अब दोनों भाईयों को जेल भेजने की तैयारी चल रही है। तबरेज और परवेज नाम के दो भाई कश्मीर में राज मिस्त्री का काम करते थे। वहीं उनकी मुलाकात कश्मीर के रामन जिलें में रहने वाली दो सगी बहनें नादिया और सागिया से हुई जिसके बाद दोनों को प्यार हुआ। प्यार धीरे-धीरे आगे बढ़ता गया और फिर एक दिन चारों ने मिलकर सोचा कि अपने रिश्ते को नाम दिया जाए। इसके बाद दोनों भाईयों ने मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी की। शादी होने के बाद दोनों ने कोर्ट मैरिज भी किया।

जब दोनों की शादी हुई उसके बाद दोनों भाई अपनी-अपनी पत्नियों को लेकर बिहार के लिए रवाना हुए। जब घर पर अपनी बेटी नहीं दिखी तो घबराए हुए पिता ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी। रिपोर्ट के बाद कश्मीर पुलिस दोनों भाईयों को खोजते बिहार आ गई और अब कश्मीर की जेल में डालने का इंतजाम किया जा रहा है। इस घटना के बाद अब  दोनों भाईयों ने भी अपना बयान दिया है। दोनों का कहना है कि हम लोग बालिग हैं और हमनें अपनी इच्छा के अनुसार शादी किया है। हमारी शादी में हमारी पत्नियों का भी साथ है और वो हमारे साथ सुपौल में ही रहना चाहती हैं। ऐसे में अगर हम उन्हें अपने साथ लाए हैं तो गलती कहां है?

जबकि इस पूरे मामले में पुलिस के पास लड़कियों के पिता द्वारा जो शिकायत दर्ज कराई गई है उसमें यह आरोप लगाया गया है कि दोनों भाईयों ने उनकी बेटियों का अपरहण किया है। अब ऐसे में पुलिस का अगला कदम क्या होता है यह तो आने वाला वक्त बताएगा लेकिन, इस खबर के बाद हरियाणा के सीएम के बयान से इंस्पायर्ड हुए लड़कों को अब सतर्क हो जाने की ज़रुरत है। कहीं ऐसा न हो कि कश्मीर से बहू लाने के चक्कर में खुद को कश्मीर की जेल के अंदर न पाएं।