अगर आप क्रिकेट के फैन हैं तो ‘जेंटल मैन खेल’ के बारे में जरुर जानते होंगे। अगर नहीं जानते तो हम आपको बता देते हैं। दरअसल, टेस्ट मैच को ही जेंटल मैन खेल कहा जाता है। लेकिन यहां हम टेस्ट मैच की बात नहीं कर रहे हैं, यहां हम बात कर रहे हैं इस समय अस्ट्रेलिया के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी की। एक ऐसा खिलाड़ी जिसे बॉल टेंपरिंग में दोषी पाया गया तब ऐसा लगने लगा कि इस खिलाड़ी का करियर खत्म होने वाला है लेकिन जब 16 महीनों बाद क्रिकेट के सबसे बड़े फॉर्मेट में वापसी की तो विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर जैसे महान खिलाड़ी को भी पीछे छोड़ दिया। यहा बात हो रही है स्टीव स्मिथ की जिन्होंने टेस्ट में एक ऐसा मुकाम हासिल किया है जो अभी तक विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी भी नहीं कर पाए थे।

अस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच ऐशेज सीरीज की शुरुआत हो चुकी है। इस सीरीज का कल पहले टेस्ट का पहला दिन था। मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनने वाली अस्ट्रेलिया की टीम की शुरुआत जिस तरह से हुई उसकी उम्मीद उसे बिल्कुल नहीं थी। मैच के चौथे ही ओवर में डेवीड वार्नर का विकेट गिर गया। और फिर शुरु हुआ विकेट गिरने का सिलसिला। ऐसा कभी लगा ही नहीं कि अस्ट्रेलिया का कोई भी बल्लेबाज पीच पर रुकने के लिए आ रहा हो। और देखते देखते ही अस्ट्रेलिया ने 8 विकेट केवल 122 रनों पर खो दिया। लेकिन 8वें ओवर में आए स्टीव स्मिथ एक छोर पर खड़े हुए केवल विकेट गिरते देखते रहे।

शतक लगाने के बाद स्टीवन स्मिथ, फोटो सोर्स: गूगल

शतक लगाने के बाद स्टीव स्मिथ, फोटो सोर्स: गूगल

कहा जाता है कि डूबते को तिनके का सहारा। कुछ वैसे ही ऑस्ट्रेलियन टीम के लिए साबित हुए पीटर सिडल। स्मिथ को भी यहां से एक अच्छा साथी मिला। फिर शुरु हुई स्मिथ की एक ऐसी पारी जिसके कायल दुनिया भर के महान खिलाड़ी हो गए। एक ऐसी पारी जिसने साबित किया कि आखिर स्टीव स्मिथ इस सदीं के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज क्यों माने जाते हैं। स्मिथ ने 144 रनों की पारी खेली और टीम को 122 रन से 284 रन तक ले गए। स्मिथ 10वें प्लेयर के रुप में आउट होने वाले खिलाड़ी रहे जिन्हें ब्रॉड ने बोल्ड कर दिया। लेकिन शायद तब तक बहुत देर हो चुकी थी क्योंकि, स्मिथ ने अपना काम कर दिया था।

आईए अब आपको बताते हैं कि स्मिथ ने इस मैच में कौन सा रिकॉर्ड अपने नाम किया जिसे विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी भी नहीं हासिल कर पाए हैं। दरअसल, बैन के बाद जब पहली बार टेस्ट में स्मिथ बल्लेबाजी करने आए तो एजबेस्टन में मौजूद तमाम दर्शको ने उनका मजाक उड़ाया। कई तरह के पोस्टर दिखाएं गए जिसमें स्मिथ को रोता दिखाया गया। लेकिन इन सब के बावजूद इस खिलाड़ी ने सबका जवाब अपने बल्ले से दिया। और अपने टेस्ट करियर का 24वां शतक लगाया।

एजबेस्टन में स्मिथ को कुछ इस तरह चिढ़ा रहे थे दर्शक, फोटो सोर्स: गूगल

एजबेस्टन में स्मिथ को कुछ इस तरह चिढ़ा रहे थे दर्शक, फोटो सोर्स: गूगल

इस शतक के लगते ही स्मिथ विराट और सचिन से भी आगे निकल गए। सबसे तेज शतक लगाने के मामले में इस वक्त स्मिथ से आगे सिर्फ ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रेडमैन हैं। स्मिथ ने अपना 24वां शतक 118वीं पारी में पूरा किया। विराट कोहली ने 24 शतक पूरा करने के लिए 123 पारी का समय लिया था। सचिन इस मामले में थोड़ा पीछे हैं। सचिन ने इसके लिए 125 पारियों का सहारा लिया था। लेकिन इन सब से आगे ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन ने मात्र 66 पारियों में ही 24 शतक पूरा कर दिया था।


स्मिथ की इस पारी के बाद सोशल मीडिया से लेकर क्रिकेट पंडितो और कई दिग्गज खिलाड़ियों ने तारीफ के पुल बांधने शुरु कर दिए। भारत के सबसे विस्फोटक ओपनर रहे विरेन्द्र सहवाग से लेकर very very Special लक्ष्मण भी पीछे नहीं रहे।

स्मिथ के इस पारी के बाद सवाल भी उठने लगे कि अब विराट और स्मिथ में बेहतर कौन है? फिलहाल स्मिथ की यह पारी कही से भी कम नहीं थी। लेकिन चलते चलते एक और जानकारी दे दूं कि स्मिथ का इंग्लैंड के खिलाफ यह 9वां शतक था। इस मामले में वह तीसरे नंबर पर आ गए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में ब्रैडमेन है जिन्होंने 19 शतक लगाए हैं। उनके बाद वेस्टइंडीज के सर गैरी सोबर्स और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ हैं जिनके नाम 10-10 शतक है।