दिल्ली में पराली की धुंध और इसी धुंध में टीम इंडिया का भी सफाया हो गया। बांग्लादेश से खेले गए पहले टी-20 मुकाबले में भारतीय टीम की हार हुई। सीरीज स्टार्ट होने से पहले टीम इंडिया से यही उम्मीद की जा रही थी कि वो बांग्लादेश का क्लीन स्वीप करेगी। क्योंकि बांग्लादेश की टीम में शाकिब नहीं थे और नहीं थे तमीम इकबाल। ऐसे में यह उम्मीद जरुर की जा सकती थी लेकिन, ऐसा कुछ हुआ नहीं और भारत पहला टी-20 मुकाबला हार गया। टीम की हार तो ठीक है। दूसरे मुकाबले में कमबैक कर सकती है लेकिन, इस हार ने भारतीय सेलेक्टर्स पर ही सवाल उठा दिए। सवाल करने वाले कोई और नहीं बल्कि, भारतीय पूर्व क्रिकेटर ही हैं।

एम एस के प्रसाद, फोटो सोर्स: गूगल
एम एस के प्रसाद, फोटो सोर्स: गूगल

पूर्व खिलाड़ी और 82 वर्षीय फारुख इंजीनियर ने सेलेक्टर्स पर सवाल उठाए थे, उसके बाद दिग्गज खिलाड़ी युवराज सिंह भी इस लाइन में खड़े हो गए। हालांकि, फारुख इंजीनियर ने सवाल उठाते हुए जो तर्क दिया था वो कहीं से भी सही नहीं था। फारुख का आरोप था कि भारतीय चयन समिति में ऐसे भी लोग शामिल हैं जिन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा को चाय पकड़ाते देखा गया था। इस बात पर चीफ सेलेक्टर एम एस के प्रसाद ने सफाई दी थी लेकिन, अनुष्का शर्मा ने भी एक बड़ी चिट्ठी लिखकर अपना बयान दिया था।

इस जवाब के बाद फारुख और अनुष्का के बीच जंग छिड़ गई है। अनुष्का ने अपने लेटर में साफ कहा था कि,

अगर आपको चयनकर्ताओं और उनकी योग्यता पर ही कोई टिप्पणी करनी है तो शौक से करें, पर अपने फ़र्ज़ी दावों में दम भरने के लिए और सनसनी पैदा करने के लिए मेरे नाम का इस्तेमाल ना करें

अभी यह बवाल पूरी तरह से शांत भी नहीं हुआ था कि युवराज सिंह ने चीफ सेलेक्टर पर सवाल खड़े कर दिए। युवराज सिंह ने कहा है कि,

हमें निश्चित तौर पर बेहतर सेलेक्टर्स चाहिए। चयनकर्ताओं का काम आसान नहीं होता। जब कभी वो 15 खिलाड़ियों को चुनते हैं, तो ये बात भी होती है कि बाकी 15 खिलाड़ियों का क्या होगा। ये मुश्किल काम है लेकिन, जहां तक आधुनिक क्रिकेट की बात है, तो मुझे नहीं लगता कि ये पूरी तरह दुरुस्त हैं।

इससे पहले भी युवराज सिंह भारतीय सेलेक्टर्स को लेकर नाराज हो चुके हैं। युवराज ने आरोप लगाय़ा था कि उन्होंने यो-यो टेस्ट पास कर लिया था लेकिन, उसके बावजूद उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया। कुछ इसी से मिलता-जुलता आरोप अंबाती रायडू का भी था। जिसके बाद उन्होंने अपने संन्यास की घोषणा कर दी थी। लेकिन, अब सवाल यह है कि युवराज सिंह ने एक बार फिर से चयनकर्ताओं पर सवाल क्यों खड़े किए हैं? क्या वह अभी भी भारतीय सेलेक्शन कमेटी से नाराज हैं या वास्तव में सेलेक्शन कमेटी में कमी है? ऐसे में यह भी जान लेना जरुरी है कि सेलेक्शन कमेटी के सदस्यों का क्रिकेट अनुभव कितना रहा है?

युवराज सिंह, फोटो सोर्स: गूगल
युवराज सिंह, फोटो सोर्स: गूगल

इस वक्त भारतीय सेलेक्शन कमेटी में एम एस के प्रसाद के अलावा गगन खोड़ा, जतिन परांजपे, सरनदीप सिंह और देवांग गांधी हैं। एम एस के प्रसाद के पास 6 टेस्ट और 17 वनडे, गगन खोड़ा के पास केवल 2 वनडे, सरनदीप सिंह के पास 3 टेस्ट और 5 वनडे, जतिन परांजपे के पास 4 वनडे और देवांग गांधी के पास 4 टेस्ट और 3 वनडे मैच खेलने का अनुभव है। यानि अगर सेलेक्शन कमेटी की पूरी टीम को आपस में मिला दिया जाए तो कुल 13 टेस्ट और 31 वनडे का अनुभव है। ऐसे में यह सवाल उठना सही है।

ये बिल्कुल सही बात है कि एक अच्छी टीम चुनने के लिए क्रिकेट खेलना मायने नहीं रखता है, बस क्रिकेट को नजदीक से पहचानने की ज़रुरत होती है। लेकिन, जब आप विराट कोहली और रवि शास्त्री जैसे दिग्गजों के सामने अपनी बातों को रखने जा रहे होते हैं तो उस वक्त अनुभव सबसे बड़ा फैक्टर होता है। दिलीप वेंगेंस्कर, मोहिंदर अमरनाथ, किरण मोरे, क्रिस श्रीकांत या संदीप पाटिल जैसे नामों के बाद प्रसाद और दूसरे चयनकर्ताओं के सामने कोहली-शास्त्री काफी भारी नज़र आते हैं लेकिन, अगर टीम सिर्फ़ इन दोनों को चलानी है तो सेलेक्शन कमेटी का क्या काम है?

विराट कोहली और रवि शास्त्री, फोटो सोर्स: गूगल
विराट कोहली और रवि शास्त्री, फोटो सोर्स: गूगल

अब यहां ये भी बात है कि भारत का कोई भी बड़ा चेहरा भारतीय सेलेक्शन कमेटी का सदस्य नहीं बनना चाहता। उसके पीछे वजह भी है। दरअसल, भारतीय टीम की सेलेक्शन कमेटी की कमान लगभग 60 से 65 साल के खिलाड़ी को दिया जाता है। इसके बाद पहले अलाउंस मिलता था लेकिन, अब सैलरी मिलती है। ऐसे में एक बंधी हुई सैलरी के अंदर कोई भी पूर्व खिलाड़ी काम नहीं करना चाहता। वह खिलाड़ी उससे अच्छा पैसा किसी आईपीएल टीम का कोच बनकर या फिर कॉमेंटेटर बनकर कमा सकता है। ज़ाहिर है, जब तक गांगुली कोई फ़ैसला नहीं करते, चयन समिति के चयन को लेकर चर्चाएं जारी रहने वाली हैं।

ये भी पढ़े:- BCCI, IPL-2020 में कुछ ऐसा करने जा रही है जिससे आपको और मज़ा आने वाला है